Ganesh Aarti

हैलो फ्रेंड्स कैसे हो आप सब आज हम बात करेंगे भगवान Ganesh Aarti के विषय में गणेश भगवान का जन्म एक माता पारवती एवं भगवान शिव के पुत्र के रूप में हुआ था। बुधवार के दिन भगवन गणेश की पूजा करना अच्छा माना जाता है तो चलिए बढ़ते है श्री गणेश जी की आरती को ओर जिसमे भगवन गणेश के महत्व का वर्णन है। भगवान गणेश आरती इन हिंदी -

Ganesh Aarti In Hindi
Ganesh Aarti

श्री गणेश जी की आरती इन हिंदी

जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा। 
माता जाकी पार्वती,पिता महादेवा॥
एक दंत दयावंत,चार भुजा धारी। 
माथे सिंदूर सोहे,मूसे की सवारी॥
जय गणेश जय गणेश,जय गणेश देवा। 
माता जाकी पार्वती,पिता महादेवा॥
पान चढ़े फल चढ़े,और चढ़े मेवा।
लड्डुअन का भोग लगे,संत करें सेवा॥
जय गणेश जय गणेश,जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती,पिता महादेवा॥
अंधन को आंख देत,कोढ़िन को काया। 
बांझन को पुत्र देत,निर्धन को माया॥
जय गणेश जय गणेश,जय गणेश देवा। 
माता जाकी पार्वती,पिता महादेवा॥
'सूर' श्याम शरण आए,सफल कीजे सेवा। 
माता जाकी पार्वती,पिता महादेवा॥
जय गणेश जय गणेश,जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती,पिता महादेवा॥
दीनन की लाज रखो,शंभु सुतकारी। 
कामना को पूरा करो,जाऊं बलिहारी॥
जय गणेश जय गणेश,जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती,पिता महादेवा॥

Also Read:

Ganesh Aarti

Conclusion:

हेलो फ्रेंड्स मैं आशा करता हूँ की आपको मेरी पोस्ट Ganesh Aarti अच्छी लगी होगी यदि आपका मेरी पोस्ट्स से लेकर कोई सवाल है तो आपका कमेंट बॉक्स मैं पूछ सकते हैं ।
धन्यवाद -