Krishna Aarti

Krishna Aarti
Krishna Aarti

हैलो फ्रेंड्स कैसे हो आप सब आज हम बात करेंगे भगवान Krishna Aarti के विषय में भगवान कृष्ण भगवान विष्णु के अवतार थे। भगवान विष्णु ने कृष्णा अवतार कंस नाम के असुर को मरने के लिया वासुदेव के पुत्र के रूप में जन्म लिया था। कंस को यह बात का ज्ञात हो चुका था की उसकी बहन का आठवीं संतान ही उसकी मौत का कारण सिद्ध होगा जिसके चलते उसने बहन व जीजा को कारागार में बंद कर दिया था इसी प्रकार उसने अपनी बहन की सभी संतानों की एक - एक करके हत्या कर दी थी साथ संतानों के हत्या करने के बाद कृष्णा का जन्म हुआ। कृष्णा के पिता वासुदेव अपने मित्र नन्द के पास छोड़ आये थे एवं अपने मित्र नन्द की पुत्री को बदले में ले आये जिसे कंस मरने में सफल हो गया था। कुछ वर्षों बाद कृष्ण ने अपने मामा कंस का वध कर दिया। कृष्णा ने अपने जीवन काल मैं महाभारत के समय भी महत्वपूर्ण योगदान दिया था वे अर्जुन के सारथी भी बने थे। तो चलिए बढ़ते है कृष्णा आरती की ओर जिससे भगवान कृष्णा अति प्रसन्न होते है। भगवान Krishna Aarti इन हिंदी -

श्री कृष्ण आरती इन हिंदी

आरती कुञ्ज बिहारी की, श्री गिरधीर कृष्ण मुरारी की।
आरती कुञ्ज बिहारी की, श्री गिरधीर कृष्ण मुरारी की।।
गले में वैजन्ती माला, बजावे मधुर मुरली वाला।
श्रवण में कुण्डल झलकला, नन्द के आनंद नंदलाला।

गगन सम अंग कांति काली, राधिका चमक रही आली।
रतन में ठाढ़े बनमाली, भ्रमहर सा आलक, कस्तूरी तिलक, चंद्र सी झलक।।
ललित छवि श्यामा प्यारी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की।
आरती कुञ्ज बिहारी की, श्री गिरधीर कृष्ण मुरारी की।।

कनकमय मोर मुकुट बिलसे, देवता दरसन को तरसे।।
गगन सो सुमन रासी बरसे, बजे मुरचंग, मधुर मिरदंग, ग्वालिन संग,
अतुल रति गोप कुमारी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की।
आरती कुञ्ज बिहारी की, श्री गिरधीर कृष्ण मुरारी की।।

जहा से प्रकट भई गंगा, स्मरण ते होत मोह भंगा।।
बंसी शिव शीश, जटा के बिच, हरे अध कीच,
चरण छवि श्री बनवारी की,श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की।।
आरती कुञ्ज बिहारी की, श्री गिरधीर कृष्ण मुरारी की।।

चमकती उज्वल तट रेनू , चहु दिसि गोपी ग्वाल धेनु,
हँसत मृदु मंद, चांदनी चंद, करत भव फंद,
टेर सुन दीन बिखरी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की।
आरती कुञ्ज बिहारी की, श्री गिरधीर कृष्ण मुरारी की।।

आरती कुञ्ज बिहारी की, श्री गिरधीर कृष्ण मुरारी की।
आरती कुञ्ज बिहारी की, श्री गिरधीर कृष्ण मुरारी की।।


Krishna Aarti

Also Read-

Conclusion:

हेलो फ्रेंड्स मैं आशा करता हूँ की आपको मेरी पोस्ट श्री कृष्णा आरती अच्छी लगी होगी यदि आपका मेरी पोस्ट्स से लेकर कोई सवाल है तो आपका कमेंट बॉक्स मैं पूछ सकते हैं ।
धन्यवाद -