-->

पत्नी के लिए 100+ शायरी जो आपके पति का दिल छू लेंगी

आपके और आपकी पत्नी के बीच का तालमेल न बिगड़े इसलिए आज हम आपके सामने लेकर आये हैं पत्नी के लिए शायरी (Patni Ke Liye Shayari) जिसे यदी आप अपनी पत्नी के

पत्नी के लिए शायरी

पत्नी हर किसी के जीवन का अभिन्न अंग होती है जिसका हमारे जीवन में जितना रोल दिखता है उससे कहीं ज्यादा होता है। हम अपनी भाग दौड़ भरी जिंदगी में अपनी पत्नी के लिए समय निकाल ही नहीं पाते हैं जिसके कारण हमारे बीच का तालमेल कुछ बिगड़ने लगता है। आपके और आपकी पत्नी के बीच का तालमेल न बिगड़े इसलिए आज हम आपके सामने लेकर आये हैं पत्नी के लिए शायरी (Patni Ke Liye Shayari) जिसे यदी आप अपनी पत्नी के भेजेंगा तो वह बहुत ही ज्यादा खुश महसूस करेंगी। 
पत्नी के लिए शायरी
पत्नी के लिए शायरी

पती की तरफ से पत्नी के लिए शायरी

मत पूछो मेरे प्यार की हद,
हम जीना बेशक़ छोड़ सकते है लेकिन तुझसे प्यार करना नहीं।।।

डरते भी तुमसे हैं ओर मरते भी तुमपे है,
तुमसे है ज़िन्दगी मेरी ओर तुम ही जान हो मेरी।।।

दूर रहकर भी तुम अपना एहसास दिलाती हो,
अपनी तस्वीर से तुम मुझे तड़पती हो।।।

मेरी हर बीमारी का इलाज हो तुम,
मेरी हर खुशी में हमेशा शामिल हो तुम।।।

लाखों महफिले है हज़ारों मेले हैँ,
लेकिन जहाँ तु नहीं वहां पर हम अकेले है।।।

तुझमे खोकर मैंने खुद को पा लिया,
मानो जैसे सागर से मोती चुरा लिया।।।

वो सुकून कहाँ दुनियां के किसी कोनें में,
जो मज़ा है तुझे जकड़कर सोने में।।।

पत्नी के लिए शायरी
पत्नी के लिए शायरी

अब इतना प्यार हो गया है तुझसे,
की अब जीने के लिये साँसों की नहीं तेरी जरुरत लगती है।।।

बेशक़ नाराज़गी कितनी ही क्यों न हो,
तुझे भूलने का ख्याल आजतक नहीं आया।।।

मेरा हमसफर बड़ा सच्चा है,
तभी मेरी ज़िन्दगी का सफर इतना अच्छा है।।।

तेरी हर खुशी और हर गम से रिश्ता गेहरा है मेरा,
बिन तेरे ज़िन्दगी इक हिस्सा अधूरा है मेरा।।।

हमसफ़र खूबसूरत हो न हो लेकिन,
सच्चा जरूर होना चाहिए।।।

तू खुशी दे चाहे दे गम,
तेरी दी हर इक चीज़ अच्छी लगती है।।।

ना जाने कैसी ख्वाहिशें हैं,
तुझे कितना भी देख लू नज़रे हटती ही नहीं।।।

पत्नी के लिए शायरी
पत्नी के लिए शायरी

मैं एक हाथ से भी दुनिया से लड़ सकता हुँ,
पर एक शर्त है दूसरे हाथ में तेरा हाथ होना चाहिए।।।

एक तू ही तो है मेरी जान जिसे मैं,
अपने दिल की हर बता सकता हुँ।।।

इतनी मोहब्बत हो गयी है तेरे नाम से भी की,
अगर गुस्से में भी तेरा नाम सुने तो मुस्कुरा देते हैं।।।

कुछ चीज़े दिल को सकून देती हैं,
जैसे तेरा चेहरा।।।

कितनी है मोहब्बत ये कभी नहीं जाताएंगे,
परछाई की तरह साथ है हमेशा इसलिए कभी अलग नहीं हो पायेंगे।।।

तुझे कितना चाहते है कभी कह नहीं पाते,
पर ये भी सच है की बिन तेरे रह नहीं पाते।।।

इक दूजे की दिल की धड़कन बनकर साथ रहेंगे
जब तक है सांस एक दूजे के साथ रहेंगे।।।

पत्नी के लिए शायरी
पत्नी के लिए शायरी

मेरे लिये हर खुशी का सिर्फ एक ही मतलब है,
ओर वो हो तुम।।।

तुम देना साथ मेरा ज़िन्दगी के हर उस मोड़ पर,
क्यूंकि तुम - बिन सबकुछ अधूरा सा ही लगता है।।।

तूने आकर ज़िन्दगी में मेरी खालीपन को ख़त्म कर दिया,
छाई उदासी थी तुम बिन जीवन में तुमने उसे ख़त्म कर दिया।।।

जीवन तेरे साथ हो दिन हो चाहे रात हो,
मैं भी चलूँ संग तेरे अगर हर सफर में तू मेरे साथ हो।।।

कुछ लोग दौलत पर नाज़ करते हैं कुछ शोहरत पे नाज़ करते हैं,
मेरे पास तेरी मोहब्बत है इसलिये हम किस्मत का शुक्र - गुज़र करते हैं।।।

ये मोहब्बत भरी निगाहे,
ढूंढ़ती है तो बस तुझे।।।

पत्नी के लिए शायरी
पत्नी के लिए शायरी

मेरी ज़िन्दगी ही नहीं मेरी जान हो तुम,
मेरे लिये तो बस सकून का दूसरा नाम हो तुम।।।

अगर सारी दुनिया एक तरफ,
और तू दूसरी तरफ भी होगी,
तभी मैं खुद बा खुद तेरी ओर ही खिंचा चला आऊंगा।।।

लोग कहते हैं बीवी सिर्फ तकलीफ देती है,
अगर बीवी तकलीफ देती है 
तो आपकी हर तकलीफ में आपके साथ में खड़ी भी रहती है।।।

वो ख्वाब ही क्या जिसमें तुम शामिल न हो,
वो बात ही क्या जिसमें तुम्हारा ज़िक्र न हो,
ओर वह रात ही क्या जिसमे तुम संग न हो।।।

तेरी चाहत है पहचान मेरी,
है तेरी मोहब्बत शान मेरी,
जुदा होकर न जी पाउँगा मैं अब,
क्यूंकि तु ही तो हो जान मेरी।।।

जादू सा लगता है तेरी हर इक बात में,
बहोत याद आती हो दिन और रात में,
कल देखा सपना एक मैंने रात में,
तेरा हाथ था मेरे हाथ में।।।

ये मत पूछना की मैं तुझे कितना चाहता हुँ,
बस ये समझ लेना की तुझपे मरता हुँ,
ओर तुम्हारे लिये ही जीना चाहता हुँ।।।

ज़िन्दगी अब तुम-बीन कटती नहीं,
याद तेरी दिमाग से हटती नहीं,
बसी हो आँखों में मेरी,
नगहों से तस्वीर अब हटती नहीं।।।

जब रिश्ता बनाया है तो रिश्ता,
जरूर निभायेंगे,
तुम रोज़ लड़ो हमसे,
ओर हम रोज़ तुम्हें मनायंगे।।।

मेरी पत्नी ही नहीं मेरी जान हो तुम,
मेरा प्यार ही नहीं मेरा अभिमान भी तुम,
तुम बिन अधूरा ही हूँ मैं,
क्यूंकि मेरा तो पूरा संसार हो तुम।।।

ये भी पढ़ें- 


तो दोस्तों आपको ये पत्नी के लिए शायरी कैसी लगी हमें जरूर बताएं। और ऐसी ही शायरी अपने पास पाते रहने के लिए Palamwale.in फिर से  विजिट करना न भूलें।